POEM OF FATHER TO DARLING DAUGHTER

मेरे बच्चे तुम कहाँ हो?

मुझे मालूम है तुम ख्वाब बनकर छुपे हो हमारी पलकों के पीछे ।
लुका छिपी खेल रहे हो न, पापा मम्मी  के साथ ।
मुझे इंतज़ार है उस रात का , जब मैं और तुम्हारी ममा ,
तुमको आसमानों  से उतारकर अपने घर ले आने की कोशिश करेंगे ।
फिर वो दिन भी आएगा  जब तुम्हारी पहली रुलाई सुनकर 
मैं दौड़ता हुआ आऊंगा ये देखने कि तुम मुन्ना बनकर आये हो या मुनिया बनकर।
मैं देख रहा हूँ एक तरफ मैं और  दूसरी तरफ मम्मी लेटी है।बीच में तुम हो।
हम दोनों कभी कहानियाँ सुनाकर ,कभी लोरियां गाकर तुम्हे सुलायेंगे ।
तुम सो जाओगे लेकिन फिर उठोगे आधी रात को और रोने लगोगे,
जब देखोगे कि मम्मी तुम्हारे पास से सरक कर मेरे पास आ गयी है ।
फिर हम तुम्हें बाँहों में झुलाएंगे ,बहलाएँगे 
एक नन्ही सी गुड़िया हॉस्पिटल से लाने का  लालच देकर ।
मुझे इंतज़ार है उस सुबह का 
जब उठते ही हम दोनों रजाइयों पर  कूदेंगे ,
तकिये फेकेंगे एक दूजे पर और मम्मी  बेचारी चिल्लाती रह जाएगी।
हम खूब मस्ती करेंगे ।सारा घर बिखेर देंगे ।
मम्मी गुस्सा ही होगी न ,
हम मना  लेंगे ।पता है कैसे ?
तुम मम्मी को गालों पर मीठी मीठी देना  और मैं ………..?
मुझे इंतज़ार है उन झगड़ों का ,
जो खेलते वक़्त, चैनल बदलते वक़्त,बाथरूम के दरवाज़े पर ,खाने  की मेज़ पर 
या शापिंग मॉल में 
तुम्हारे और  मेरे बीच  होंगे ।
फिर एक दिन तुम गैलरी में खड़े होकर 
किसी एक खिड़की को गौर  से देखने  लग जाओगे ।
बिना बात हसोगे ,गुनगुनाओगे ।
वो दिन मेरे लिए बहुत खुशी का दिन होगा ,
क्योकि मुझे यकीं हो जाएगा ,
मैंने एक  जिन्दादिल पैदा किया हे ,जो प्यार करना जानता  है ।
फिर वो दिन आएगा जब पहली बार तुम अपने पापा की आँखों  में आखे डालक्रर कहोगे कि 
.,,पापा ,आप यहाँ  गलती कर रहे हैं  ।,,
तुम्हारी उस पहली राय,पहली समझाइश का दिन 
मेरे गुरुर का दिन होगा ।
फिर वो दिन भी आएगा ,
जब तुम भी इंतज़ार करने लग जाओगे मेरी तरह 
अपने बच्चों का ।
ये सब होगा …..मेरे बच्चे ,यही सब होगा,
चाहे तुम किसी रूप में आओ।
हम तुम्हे जल्दी ही पलकों के पीछे से ढूंढ़कर 
अपनी गोद में ले आएँगे ।
बस तुम्हारी मम्मी को एक बार ,
दुल्हन बनकर इस घर में आ जाने दो ।

FROM 
“DIL TO DIL HAI” 
BY PANKAJ JAIN@ ALL RIGHTS RESERVED
CALL TO ORDER BOOK,DVD”LOVE”  OR LYRICS
09754381469
09406826679


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *